फिश फार्मिंग में कुछ बेसिक बीमारियों के लिए कुछ बेसिक मेडिसिन जरूरी होती है, जिनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए। क्योंकि हमारे मछली पालन किसान को दवाइयों के बारे में जानकारी नहीं होती फिर अगर उनकी मछलियां बीमार पड़ती हैं तो उन्हें इस बात का पता नहीं होता कि क्या बीमारी है कौन सी दवाई देनी चाहिए इससे उनको काफी नुकसान भी उठाना पड़ जाता है।
    नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका अपने ब्लॉग Pvraqua. पर। आज के इस टॉपिक में हम जानेंगे कि फिश फार्मिंग में नुकसान नहीं चाहते तो कौन से प्रोडक्ट के बारे में जानना जरूरी है
अगर आप दवाइयों के इस्तेमाल के बारे में जानेंगे तो इससे फायदा यह होगा कि आपकी मछली की मृत्यु दर कम होगी, FCR बढ़ेगा, प्रॉफिट अच्छा मिलेगा। हम लोग एक एक करके प्रोडक्ट के बारे में जानेंगे।

1. Liv 52-

यह हिमालय कंपनी का प्रोडक्ट है यह मछली के लीवर के फंक्शनैलिटी को इंप्रूव करता है। इससे FCR बढ़ता है और डाइजेशन अच्छा रहता है। सामान्यता हम इसे 10ml/kg Of Feed इस्तेमाल करते हैं। अगर आपकी फेस छोटी है तो हफ्ते में दो बार और बड़ी मछली को हफ्ते में एक बार अपनी Catfish को दें। इससे रिजल्ट बहुत अच्छे मिलेंगे और FCR  बहुत अच्छा आएगा।

2. Himalaya HIM – C

यह नेचुरल इम्यून बूस्टर और ऑक्सीडेंट है। यह मछली को स्ट्रेस फ्री रखता है। अगर हम Intensive Fish Farming करते हैं मतलब की 1 एकड़ में 15-20 हजार मछलियां पालते हैं, तो हमें मछली को Extra विटामिन सी देना पड़ता है। 1gm/kg feed/ week . यह कैटफिश के लिए बहुत आवश्यक है।

3. Yeast Probiotics

Yeast हमारा Probiotics होता है। यह मछली की पाचन क्रिया को बढ़ा देता है। जिससे कि Fish की Growth अच्छी  होती है। 1gm/kg feed में इसे देना चाहिए। जिससे कि मछली कि पाचन क्रिया अच्छी रहे और मछली की प्रोटीन इंटेक अच्छी रहे। इससे हमारी फिश की ग्रोथ अच्छी होगी।

4.BioRemid-Aqua

अगर आपके pond में नाइट्राइट बन रहा हो, और कंट्रोल ना हो रहा हो, जिससे कि मछली कि मृत्यु दर बढ़ गई हो। तो आपको इस प्रोडक्ट का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। यह प्रोडक्ट बहुत ही अच्छे रिजल्ट देता है। इसके इस्तेमाल से आपके मछली कि मृत्यु दर सून्य हो जाएगी। और आपको बेहतर परिणाम मिल पाएंगे।

5. Zeolite-

जब भी मिनरल का imbalance होता है, तब जियोलाइट इसको balance करने का काम करता है। आपकी Water Body में जितनी Toxic gases होती हैं, ये उनको अब्सर्वे कर लेता है। अगर आपके पोंड में कोई गंध आ रही है, तो ये उसको खत्म कर देता है। जब भी पोंड में अमोनिया बनने लगे तो आपको इस प्रोडक्ट को जरूर इस्तेमाल करना चाहिए।

6. Himalaya Yucca fresh-

 यह अमोनिया बाइंडर है। हमारे पोंड में जब भी अमोनिया बढ़ती है, तो मछली का मारना शुरू हो जाता है। ऐसे में ये प्रोडक्ट वादान साबित होता है। इसे फीड में 5gm/kg मिला कर देते हैं। ये अमोनिया को फास्ट रिलीव करता है।

7. Kemin enzymes-

यह एक अच्छा एंजाइम प्रोडक्ट है। ये catfish या IMC दोनों के लिए बहुत उपयोगी होता है। यह प्रोडक्ट डाइजेशन के लिए, तथा यूटिलाइजेशन of प्रोटीन के लिए बहुत अच्छा है। आपने देखा होगा कि आपकी मछली ओवर डाइजेशन से मर जाती है, अगर आप इसका इस्तेमाल करेंगे तो इस समस्या से आपको जरूर छुटकारा मिलेगा। इसको 1gm/kg feed में मिला कर देना चाहिए।
दोस्तों कैसे लगी जानकारी, अगर जानकारी पसंद आई हो तो इसे शेयर करना बिल्कुल ना भूलें। अगर इसी जानकारी को वीडियो के रूप में देखना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।
                        https://youtu.be/1XRAQ_zZJPY

 


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *